Things to be used in daily life Part - 2


- सिंक में खारे पानी से बनने वाले दाग-धब्बे छड़ाने के लिए किसी कपड़े में सिरका लगाकर इन निशानों पर रगड़ें।
- नॉन स्टिक बरतनों को खरदरे नायलॉन के झावे, राख या ईट से साफ न करें।
 -रसोई के किसी नए उपकरण का प्रयोग करते समय उसके साथ की निर्देश पस्तिका अवश्य पढ़ लें।
 - माइक्रोवेव ओवन को साफ करने के लिए सफेद दंतमंजन छिड़क कर सूखे कपड़े से पोंछ दें। ओवन चमक उठेगा।
 - कच्चे आम छीलकर बारीक काट लें । उनको सुखाकर पीसकर एक शीशी में रख लें। इसका इस्तेमाल आप वर्ष भर चटनी, सब्जी आदि में खटाई की तरह कर सकती हैं।
- सिल्क की साड़ी पर उबले आलू और बेसन को साबुन की तरह लगाएं और रगड़कर धो दें। उसकी चमक बरकरार रहेगी।
- जरी पानी से काली पड़ जाती है इसलिए महंगे जरी वाले कपड़ों को ड्राईक्लीन करवाना ठीक रहता है।
- काजल का धब्बा पड़ने पर उस जगह कलफ का पेस्ट लगा दें। कुछ देर बाद साबुन से धो दें।
- मॉयश्चराइजर में अगर थक्के से बन जाएं या वह दही की तरह फटा-फटा सा हो जाए तो यह उसके खराब हो जाने की निशानी है।
- बच्चों की पेंसिल बनाने वाले शार्पनर से काजल पेंसिल या लिप पेंसिल की नोक न बनाएं।
- लिखने वाली पेंसिल के रसायन आंखों और होंठों को नुकसान पहुंचा सकते हैं।
- अगर घर में चहे अधिक हैं तो खा सामग्री प्लास्टिक के डिब्बों में रखने की बजाय स्टील या टिन के डिब्बों में रखें।
- कपड़ों पर बॉलपेन की स्याही लगने पर उसे नेलपॉलिश रिम वर से साफ करें।
- सफेद कपड़ों को धोने के लिए गरम पानी में डिटर्जेंट डालकर भिगोएं । मैल जल्दी निकलेगा।
- होंठों पर रात को कोई नमी प्रदान करने वाली चीज लगाकर सोएं। इससे होंठ सूखेंगे नहीं।
- गीले कपड़ों को देर तक वॉशिंग मशीन में न छोड़ें। उसमें बदब आ सकती है।

No comments:

Post a Comment